भारत की सुप्रीम रिलीजियस अथॉरिटी आफ़ताबे शरीयत मौलाना कल्बे जवाद साहब की सिक्योरटी को खतरा,सोशल मीडिया पर हो रहे अटैक के बाद फॉलोवर पर हमले जारी,ख़ुफ़िया तंत्र एक्टिव

0

तहलका टुडे डेस्क
लखनऊ:शांति के प्रतीक ,देश में सेव वक़्फ़ इंडिया मिशन के अलंबरदार भारत की सुप्रीम रिलीजियस अथॉरिटी ऑफतांबे शरीयत मौलाना कल्बे जवाद साहब की सिक्युरिटी पर खतरा दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है,मौलाना साहब के पीआरओ मौलाना कमरुल हसन पर कुछ महीने पहले हुए जान लेवा हमले का मामला अभी शांत ही नही पड़ा था कि 13 अक्टूबर शुक्रवार की शाम को उनके आस्ताने के करीब उनके बड़े फॉलोवर और सेव वक़्फ़ इंडिया के वाईस प्रेसिडेंट सैयद रिज़वान मुस्तफा पर जान लेवा हमले ने हड़कम्प मचा दिया है,पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नही हुई है।

मालूम हो आफ़ताबे शरीयत मौलाना कल्बे जवाद नक़वी के वक़्फ़ बचाओ मिशन से समाज और देश के गद्दार बैड एलिमेंट,वक़्फ़ खोर बहुत आहत है,मुस्तकिल मौलाना जवाद साहब की शख्सियत पर हमला करने से नही चूक रहे है,सोशल मीडिया पर आरोप प्रत्यरोप के बीच मे अराजकतत्वों और फ़र्ज़ी रहनुमाओ से जनाब के फॉलोवर की भिड़ंत जग जाहिर है,
ज़िला प्रशासन की सख्ती से और मुकदमो से इनमें कुछ गिरावट हुई है,वही अब वक़्फ़ खोर लोगो की टीम ने अब मौलाना जवाद साहब के लोगो पर हमले शुरू कर दिए है कुछ माह पहले मौलाना जवाद के पीआरओ मौलाना कमरुल हसन पर जान लेवा हमला जग जाहिर है,उसके बाद चेयरमैन अली ज़ैदी से तालकटोरा थाने में बदतमीज़ी और धमकी के वीडियो भी जग जाहिर है,पुलिस ने इस मामले में लीपा पोती कर आज तक एफआईआर नही लिखी।

वही 13 अक्टूबर शुक्रवार को मस्जिद आसिफी में यौमे दुआ कार्यक्रम के बाद फिलिपींस को लेकर मौलाना जवाद साहब का बेबाकी से बयान देने से पूरी दुनिया मे हड़कम्प मच गया था,इनके साथ सेव वक़्फ़ इंडिया के वाईस प्रेसिडेंट रिज़वान मुस्तफ़ा भी थे,

13 अक्टूबर की रात में रक्षा मंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह की प्रेरणा से चल रहे मिशन अम्बर फाउंडेशन दृष्टि से लेकर उज्ज्वल भविष्य तक कार्यक्रम के चेयरमैन वफ़ा अब्बास अपने बेटे की बर्थ डे पर रिज़वान मुस्तफ़ा के साथ मौलाना साहब के जौहरी मोहल्ला आवास पर कार्ड देने गए थे,कार से जैसे ही उतरे कुछ लोग व्यंग्य कर गाली गलौज करने लगे,रिज़वान मुस्तफ़ा से भिड़ गए और जान लेवा हमला कर दिया,सामने बैठे अक़ील शम्शी और उनके सहयोगियों ने दौड़ कर एक बड़े हादसे से बचा लिया,अराजकतत्व असलहा लहराते जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए,वफ़ा अब्बास और रिज़वान मुस्तफ़ा द्वारा पूरी जानकारी मौलाना जवाद साहब को दी गयी।

बाद में कई गंभीर धाराओ में मुकदमा हमलावरों पर दर्ज हुआ था।

ख़ुफ़िया तंत्र और पुलिस के एक बड़े आला अधिकारी के मुताबिक शहर के अराजक तत्व यहाँ खड़े होकर जनाब के हमदर्द बनकर मुखबिरी करते है,अराजकता फैलाते है ये लोग हुसैनी टाइगर ग्रुप में शामिल होने का दावा करते है या फिर अपने आपको उसका सदस्य बता कर अपना अड्डा बनाये है जिसको लेकर तफ्तीश जारी है, रिपोर्ट पर चिंता का विषय बना हुआ है,

मौलाना कल्बे जवाद साहब की सेक्युरिटी को लेकर प्रशासन काफी चिंतित है , सादी वर्दी में आसपास के चाय के होटलों पर अराजक तत्वों पर पुलिस की कड़ी नजर है,सीसीटीवी कैमरे से भी निगरानी रक्खी जा रही है,मौलाना साहब के घर तक सभी गलियों में सीसीटीवी कैमरे लोगो के सहयोग से लगवाए जाएंगे,अराजकतत्वों पर कड़ी नजर रहेंगी,उन सब की हिस्ट्रीशीट और पूर्व में हुई गैंगस्टर की कार्यवाही की समीक्षा की जा रही है,मोबाईल एक्टिविटी सर्विलांस पर है।

हालात को मद्दे नज़र मौलाना जवाद साहब की सिक्योरटी में किसी तरह की कमी नही होने दी जाएंगी,अराजक तत्वों के जमवाड़े को रहने नही दिया जाएगा,इनके घर के रास्ते के आसपास खड़ी गाड़ियों,अवैध निर्माण, अतिक्रमण को भी हटाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here