मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अमरोहा दौरा विलंबित, दो बजे के बाद पहुंचेंगे

उत्तर प्रदेश प्रदेश राजनीति राज्य

अमरोहा । कुशीनगर में स्कूली वैन हादसे में बच्चों की मौत के बाद परिवार को सांत्वना देने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अब अमरोहा दौरा विलंबित हो गया है। अब मुख्यमंत्री दो बजे से बाद ही मुरादाबाद की हवाई पट्टी पर उतरने के बाद अमरोहा जाएंगे।

अमरोहा के हसनपुर तहसील में आज उनका सुबह दस बजे आगमन प्रस्तावित था। मूंढापांडे हवाई पट्टी पर सभी तैयारियां थी। 11.00 बजे जिला प्रशासन के पास जानकारी आई कि फिलहाल सुबह आने का स्थगित हो गया है। उनका आगमन दोपहर दो बजे प्रस्तावित है। अधिकृत जानकारी स्थगित कार्यक्रम में नहीं दी है। माना जा रहा है कि कुशीनगर के विशुनपुरा के दुदही बहपुरवा रेलवे क्रॉसिंग पर सवारी गाड़ी की चपेट में आने से स्कूली बस में सवार बच्चों की मौत होने के चलते वहां जा सकते हैं। इसी कारण उनका सुबह यहां पर आगमन स्थगित हो गया है।

मुख्यमंत्री को हसनपुर में विभागीय अधिकारियों के साथ कानून व्यवस्था एवं अन्य विकास कार्यों पर समीक्षा करनी थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पास के ही के गांव मेहंदीपुर में प्रधान के घर खाना खाने के बाद सैदनगली में चौपाल लगाएंगे। इसके बाद उनका रात्रि विश्राम भी यहीं पर है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज नुमाइश ग्राउंड पहुंचकर विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाणपत्र देने के अलावा योजना का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगे। इसके बाद जनसभा को संबोधित करेंगे। 15.30 से 17.45 बजे तक वह तहसील, थाना, गेहूं क्रय केंद्र आदि का स्थलीय निरीक्षण करेंगे। छह बजे मेहंदीपुर गांव पहुंचकर राधास्वामी सत्संग व्यास परिसर में चौपाल में सवा दो घंटे लोगों की बात सुनेंगे और सरकार के कामकाज व उपलब्धियों की जानकारी देंगे।

इसके बाद रात साढ़े आठ बजे वह मेहंदीपुर की ग्राम प्रधान प्रियंका के घर पहुंचकर भोजन करेंगे। यहां से वह सीधे गांव के सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज पहुंचकर रात्रि विश्राम करेंगे। कल सुबह साढ़े आठ बजे मेहंदीपुर में बनाए गए हेलीपैड से बुलंदशहर रवाना हो जाएंगे।

मुख्यमंत्री के लिए अपने हाथों से खाना बनाएंगी प्रियंका 

मेहंदीपुर की ग्राम प्रधान प्रियंका देवी आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने हाथों से तैयार तोरई, परवल, लौकी की सब्जी और अरहर की दाल के साथ रोटी खिलाएंगी। कल अफसरों ने उन्हें अपने हाथों से खाना तैयार करने की अनुमति दे दी। हसनपुर तहसील के छोटे से गांव मेहंदीपुर में इन दिनों उल्लास का माहौल है। एक सप्ताह से यहां अफसरों का डेरा है। गैस कनेक्शन हो या बिजली का कनेक्शन, अधिकारी पूछ-पूछकर ग्रामीणों को सरकारी सुविधाएं उपलब्ध करा रहे हैं। रात इस गांव में मुख्यमंत्री चौपाल लगाएंगे। सीधे लोगों की बात सुनेंगे और उन्हें सरकार की उपलब्धियां भी गिनाएंगे।

चौपाल के बाद मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति की प्रधान प्रियंका देवी के घर खाना खाएंगे। ग्राम प्रधान को पहले बताया गया था कि प्रशासन उनके घर पर एक रसोईया भेजेगा जो मुख्यमंत्री के लिए खाना बनाएगा। इससे प्रधान व उनके परिजन आहत थे। दैनिक जागरण ने कल उनका दर्द उजागर किया था। इसके बाद एसडीएम समेत अन्य अधिकारी उनके घर पहुंच गए। उन्होंने मुख्यमंत्री की पसंद का मेन्यू बताते हुए खुद ही सादा खाना तैयार करने की अनुमति दे दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *