सीएम के इस्तीफ़े के दौर में पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफ़ा और दूसरी तरफ़ बाबुल सुप्रियो ने Pm मोदी को सलाम कहकर ममता दीदी का दामन फिर थाम लिया !

देश लखनऊ

तहलका टुडे टीम

पंजाब में बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपने कैबिनेट का इस्तीफा भी राज्यपाल को सौंप दिया है। कांग्रेस आलाकमान के आदेश पर आज शाम 5 बजे विधायक दल की बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में विधायक अपना नया नेता चुन सकते हैं।

इससे पहले सूत्रों ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह की आज कांग्रेस आलाकमान सोनिया गांधी के साथ फोन पर बात हुई। इस दौरान उन्होंने कहा कि वह ऐसे अपमान के साथ पार्टी में नहीं रह सकते हैं। दोनों नेताओं की बातचीत के बाद कैप्टन के इस्तीफे के अटकलों को और हवा मिली है।

इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा- मेरा फैसला आज सुबह हो गया था। सोनिया गांधी से कह दिया था कि इस्तीफा दे रहा हूं। यह तीसरी बार हो रहा है दो महीनों में कि विधायक दल की बैठक हो रही है, मैं अपमानित महसूस कर रहा हूं। इसलिए मैंने फैसला किया है कि मुख्यमंत्री पद छोड़ दूंगा, जिनपर उन्हें भरोसा है बना लें। कांग्रेस छोड़ने के सवाल पर कैप्टन ने कहा- मैं कांग्रेस में हूं। अपने समर्थकों से बात करके फैसला लूंगा।

पश्चिम बंगाल में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके सांसद बाबुल सुप्रियो ने टीएमसी ज्वाइन कर ली है. उन्होंने कुछ दिन पहले ही बीजेपी से इस्तीफा दिया था. टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी और डेरेक ओ ब्रायन की मौजूदी में उन्होंने तृणमूल कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की. टीएमसी में शामिल होने के बाद उन्होंने कहा कि वह आसनसोल से सांसद पद भी छोड़ेंगे. वह सोमवार को सीएम ममता बनर्जी से मुलाकात करेंगे.

बाबुल सुप्रियो के पार्टी में शामिल होने पर टीएमसी की तरफ से बयान जारी कर बताया गया है कि, टीएमसी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी और राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन की मौजूदगी में पूर्व केंद्रीय मंत्री और मौजूदा सांसद बाबुल सुप्रियो टीएमसी में शामिल हो गए हैं.हम इस मौके पर हम उनका पार्टी में स्वागत करते हैं.

बता दें कि बाबुल सुप्रियो की सुरक्षा केटेगरी में बदलाव भी आज ही किया गया था. बाबुल सुप्रियो की सुरक्षा अब Z के बजाय Y केटेगरी की कर दी गई है. केंद्र सरकार की तरफ से बाबुल सुप्रियो को सुरक्षा दी गई है. सुप्रियो को CRPF की सुरक्षा मिली हुई है.

टीएमसी नेता का दावा संपर्क में हैं और बीजेपी नेता

बाबुल सुप्रियो के टीएमसी में शामिल होने के बाद पार्टी नेता कुणाल घोष का कहना है कि बीजेपी के कई नेता टीएमसी नेतृत्व के संपर्क में हैं. वे लोग बीजेपी से संतुष्ट नहीं हैं. एक (बाबुल सुप्रियो) ने तो आज टीएमसी ज्वाइन कर ही ली, अन्य नेता भी टीएमसी में आना चाहते हैं. यह प्रक्रिया चलती रहेगी. इंतजार करिए और देखते रहिए.

जुलाई में राजनीति से सन्यास की घोषणा की थी

बता दें कि बीते जुलाई के महीने में पूर्व केंद्रीय मंत्री और बंगाल में बीजेपी के बड़े नेताओं में शुमार रहे बाबुल सुप्रियो ने राजनीति को अलविदा कह दिया था. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिख कहा है कि वे राजनीति में सिर्फ समाज सेवा के लिए आए थे. अब उन्होंने अपनी राह बदलने का फैसला लिया है.

पहले कहा किसी पार्टी में शामिल नहीं होगे फिर बदल दी थी लाइन

बता दें कि जुलाई महीने में जब उन्होंने राजनीति से सन्यास का ऐलान किया था तो उन्होंने था कि लोगों की सेवा करने के लिए राजनीति में रहने की जरूरत नहीं है. वे राजनीति से अलग होकर भी अपने उस उदेश्य को पूरा कर सकते हैं. उनकी तरफ से पोस्ट में पहले इस बात पर भी जोर दिया गया कि वे हमेशा से बीजेपी का ही हिस्सा रहे हैं और रहेंगे. उन्होंने यहां तक कहा था कि वे टीएमसी या कोई दूसरी पार्टी में शामिल नहीं होंगे. लेकिन अब उनकी तरफ से अपनी पोस्ट को अपडेट किया गया है और उन्होंने इस लाइन को हटा दिया है. ऐसे में अटकलें तेज थे अब लगभग डेढ़ महीने बीतने के बाद टीएमसी का दामन थाम लिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *