अपने एखलाक और काम करने के जुनूनी कैफियत से 25साल तक देश के सबसे बड़े सूबे की राजधानी लखनऊ के नगर निगम में सेवा कर अपनी पहचान बनाकर मुलायम सिंह यादव की समधन बनने वाली, अपर्णा यादव बिष्ट की मां अंबी बिष्ट अब देवा महादेवा की सरजमी बाराबंकी की नगर पालिका को करेंगी ठीक,संभालेंगी जिम्मेदारी, कमीशन खोरों में हड़कंप

0

तहलका टुडे टीम

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की समधन और अपर्णा यादव बिष्ट की मां अंबी बिष्ट का शासन ने बाराबंकी ट्रांसफर कर दिया है. अंबी बिष्ट लखनऊ नगर निगम में 25 साल से तैनात थीं. वे यहां जोनल अधिकारी के तौर पर कार्यरत हैं. इससे पहले भी अंबी बिष्ट का कई बार अन्य जिले में ट्रांसफर हुआ, लेकिन अखलाक और काम करने के जज्बे और सलाहियत के कारण आदेश को रद्द करवा दिया जाता रहा. बता दें कि अपर्णा यादव इस समय बीजेपी की नेता हैं.

मालूम हो नगर पालिका नवाबगंज की हालत बेहद खराब है,पूर्व में ईओ चेयरमैन पति के पिट्ठू बनकर काम अंजाम देते थे,लेकिन अब ये सब ना मुमकिन होगा, इस पोस्टिंग के बाद करेप्शन दादा गिरी का खात्मा और जोर जबरदस्ती पर लगाम लगेगी,केबिल,बिजली अंडर ग्राउंड तार,गैस पाइप कनेक्शन के नाम पर पूरे शहर की सड़को की बरबादी,होर्डिंग के टेंडरों में खुराफात,नगर पालिका की संपत्ति को कौड़ियों के दाम कब्जा कराने का काम की अब होगी जांच।

जानकारी के मुताबिक, लखनऊ में अंबी बिष्ट नगर निगम जोन- तीन में काम करती हैं. नगर निगम ने हाल ही में ट्रांसफर लिस्ट जारी की है. जिसमें अंबी बिष्ट का नाम भी है. अंबी का 2018 में भी ट्रांसफर हुआ था, लेकिन उनका ट्रांसफर रोक दिया गया था. पहले वह एलडीए में तैनात थी. उसके बाद उनको नगर निगम में पोस्टिंग दे दी गई.

पहले भी हो चुका ट्रांसफर

लखनऊ नगर निगम में अंबी करीब 25 साल से एक ही जगह पर तैनात हैं और रसूख इतना था कि उनका ट्रांसफर कई बार किया गया लेकिन रुकवा दिया गया. पहली बार उनको बाराबंकी ट्रांसफर किया गया है. इसके अलावा, नगर निगम में कई अन्य अफसरों के भी ट्रांसफर हुए हैं. इनमें सहायक नगर आयुक्त और ईओ श्रेणी के अधिकारी शामिल हैं.

अपर्णा ने हाल ही में बीजेपी जॉइन की

बता दें कि अपर्णा यादव मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता के बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं. 2017 में वे सपा के टिकट पर लखनऊ की कैंट विधानसभा सीट से चुनाव लड़ चुकी हैं. हालांकि, इस चुनाव में उन्हें भाजपा की रीता बहुगुणा जोशी से हार का सामना करना पड़ा था. हाल ही में विधानसभा चुनाव से पहले अपर्णा ने बीजेपी जॉइन की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here