होली में घर जला,प्रशासन की लापरवाही से 3 दलितों की अस्पताल में तड़प तड़प कर दर्दनाक मौत,अब Dm कर रही हैं दुख व्यक्त कर लीपा पोती

Latest Article अमेठी प्रदेश रायबरेली

तहलका टुडे/इरशाद हुसैन

अमेठी – जिले के कोतवाली जायस के अंतर्गत एक गांव में होली की रात्रि खाना बनाते समय आग लग जाने के कारण जहां पूरा घर जलकर राख हो गया वही तीन दलितों की दर्दनाक मौत हो गई ।

आग की विभीषिका इतनी विनाशकारी थी कि एक क्षण में जब तक गांव वाले मदद को पहुंचते की दंपति समेत उसके 24 वर्षीय बेटा आग की लपेटो में घिरे थे उक्त घटना से होली की खुशियां गम में बदल गई 3 दिनों से उक्त गांव में एक भी घर में चूल्हा नहीं जला क्योंकि तीनों मौतें रायबरेली जिला अस्पताल में एक-एक कर होती रही अमेठी जिले की जिलाधिकारी शकुंतला गौतम ने उक्त घटना पर गहरा दुःख व्यक्त किया डीएम ने कहा है कि अग्नि पीड़ितों को हर संभव सरकारी मदद मुहैया कराई जाएगी |

  1. तिलोई तहसील अंतर्गत ग्राम राजापुर मजरे बेलवा हसनपुर में होली की रात्रि जब जोर से आग की लपटें उठी तो लगभग 8 बजे के आसपास लोगों ने सोचा कि शायद होली जली होगी लेकिन जब चीख-पुकार बचाओ बचाओ की आवाज आई तो दलित बाहुल्य गांव के लोग रामनेवाज गौतम के घर की तरफ भागे तो देखा कि पूरा परिवार आग की लपटों में घिरा है बड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया वह राम नेवाज (50 ) पुत्र बदल उसकी पत्नी कलावती 45 वा बेटा अर्जुन 24 को किसी तरह बाहर निकाला उसके शरीर पर लगी आग को बुझाने की भरसक कोशिश किया तथा 108 एंबुलेंस से उसे रायबरेली जिला अस्पताल लगभग 11 बजे के आसपास भर्ती कराया गया जहां होली की प्रातः 2 मार्च को 6बजे अर्जुन पुत्र राम नेवाज की मौत हो गई वहीं दंपत्ति गंभीर अवस्था में भर्ती रहे अर्जुन का शव विच्छेदन के बाद जैसे ही गांव आया और अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू होने लगी तो सूचना आई कि रामनेवाज गौतम की भी मौत जिला अस्पताल में शाम 6:30 बजे हो गई है तथा आज 3 मार्च 2018 को उसकी पत्नी कलावती की भी मौत जिला अस्पताल रायबरेली में हो गई दम्पति समेत पुत्र की मौत से पूरा गांव सदमे में है दंपत्ति का पोस्टमार्टम होने के बाद उनका भी शव गांव पहुँचने का इंतजार हो रहा है वह अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू थी रामनेवाज की 5 पुत्रियां वा दो बेटे हैं एक अर्जुन की मौत हो चुकी है व एक बेटा अरुण 7 वर्ष जीवित है जो गावँ में ही कक्षा 3 में पढ़ता है तथा 3 बेटी अविवाहित हैं | अमेठी संसदीय क्षेत्र के तिलोई विधानसभा क्षेत्र के राजापुर गांव में घटित घटना से पूरा क्षेत्र दुखी है बच्चे बूढ़े सभी के आंसू गिर रहे हैं होली जलने के पहले ही जलने के पहले ही 3 लोगों को आग की लपटों ने लील लिया गरीब दलित परिवार पर बड़ा पहाड़ टूट पड़ा है बताते हैं कि घर पर राम नेवाज जूता चप्पल सीकर अपने बच्चों का पेट पालता था घर का इकलौता वारिस अरुण 7 वर्ष है इसी उम्र में इतना दुखी दाई है की घटना अपनी नजर से देखा है बताते हैं कि राम नेवाज के पुत्र अर्जुन की 1 सप्ताह पूर्व शादी की रस्म अदायगी भी हुई थी जून 2018 में शादी की तारीख नंदमहर गांव से तय हुई थी बहु आने के पहले अपने साथ पत्नी बेटा को भी हमेशा के लिए दुनिया से विदा ले लिया होली की रात्रि 8 बजे जब उक्त घटना घटी तो सबसे पहले तिलोई के उपजिलाधिकारी डॉ0 अशोक कुमार शुक्ला , उप पुलिसउपाधीक्षक डा0 बीनू सिंह , तहसीलदार तिलोई हरिमोहन तिवारी , मौके पर पहुंच गए थे आला अधिकारियों ने घायलों को तत्काल अस्पताल भिजवाया और उनके परिवार के लोगों की मदद में जुट गए तहसीलदार तिलोई हरिमोहन तिवारी ने बताया है कि घटना के बाद से लेखपाल व कानूनगो गांव में ही रुके हैं | तहसील प्रशासन ने पीड़ित परिवार को खाद्य सामग्री वह बर्तन उपलब्ध कराएं हैं तथा उनकी सभी मदद की जा रही है |

कृषि बीमा दुर्घटना व मुख्यमंत्री कोष से आर्थिक मदद एवं पारिवारिक लाभ योजना के तहत भी लाभ दिलाने के लिए जिला प्रशासन को लिखित रुप से सूचित कर दिया गया है | देर शाम तिलोई के नायब तहसीलदार बी0 के0 सिंह व जिला पूर्ति अधिकारी अखिलेश श्रीवास्तव ने भी पीड़ित परिवार से सहयोग दिलाये जाने को कहा है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *