किसानों के प्रदर्शन पर राहुल का ट्वीट- ‘ये तो बस शुरुआत है!’ BJP के हाज़िर जवाब केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी का तंज – हम कांग्रेस नहीं जो….जो किसानों के लिए नो एंट्री का बोर्ड लगा दें

Breaking News CRIME Latest Article देश

किसानों को दिल्ली में एंट्री की इजाज़त मिलने के बाद हरियाणा और पंजाब के बीच अंबाला के पास शंभू बॉर्डर पर पुलिस ने बैरिकेड्स हटा लिए हैं।

तहलका टुडे डेस्क

नई दिल्ली -सरकार की किसान नीति के खिलाफ किसानों का हल्ला-बोल जारी है। इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला है। राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘PM को याद रखना चाहिए था जब-जब अहंकार सच्चाई से टकराता है, पराजित होता है। सच्चाई की लड़ाई लड़ रहे किसानों को दुनिया की कोई सरकार नहीं रोक सकती। मोदी सरकार को किसानों की माँगें माननी ही होंगी और काले क़ानून वापस लेने होंगे। ये तो बस शुरुआत है!’

राहुल गांधी के इस ट्वीट के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तरफ से भी जल्दी ही प्रतिक्रिया आ गई और मोर्चा संभाला पार्टी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने।

मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि ‘हम कांग्रेस नहीं हैं जो किसानों के लिए नो एंट्री का बोर्ड लगा दें…आइए बात कीजिए, कोई भ्रम है तो दूर कीजिए। सरकार के दरवाजे बातचीत के लिए हमेशा खुले हैं।’ आपको बता दें कि किसानों के प्रदर्शन पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने फिर कहा है कि ‘सरकार पहले से ही किसानों से बातचीत करने के लिए तैयार है। हमने 3 दिसंबर को किसानों से जुड़े संगठनों को बातचीत के लिए बुलाया है। ठंड और कोविड-19 को देखते हुए मैं उनसे अपील करता हूं कि वो आंदोलन छोड़ें।’

इससे पहले गुरुवार को भी कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक कविता ट्वीट किया था। उन्होंने इस कविता के जरिए किसान आंदोलन को लेकर मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की थी। ट्वीट में लिखा गया था कि ‘नहीं हुआ है अभी सवेरा, पूरब की लाली पहचान, चिड़ियों के जगने से पहले खाट छोड़ उठ गया किसान, काले कानूनों के बादल गरज रहे गड़-गड़, अन्याय की बिजली चमकती चम-चम, मूसलाधार बरसता पानी, ज़रा ना रुकता लेता दम…!’ राहुल गांधी ने दावा किया था कि ‘‘मोदी सरकार की क्रूरता के ख़िलाफ़ देश का किसान डटकर खड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *