UP सरकार का बड़ा फैसला,2 अप्रैल तक स्कूल काॅलेज बंद,प्रदेश के सभी धार्मिक स्थल किये गये बंद, प्रतियोगी परीक्षाएं रद्द ,धार्मिक गुरूओ से अपील मंदिर,मस्जिद,गुरूद्वारे में ना हो भीड़ ,अभियान में सभी लोग दे साथ, धरना प्रदर्शन स्थल पर पूर्ण प्रतिबंध, #कोरोना के मरीजो का होगा मुफ्त इलाज

Breaking News उत्तर प्रदेश प्रदेश बाराबंकी लखनऊ

 

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को लोकभवन में हुई बैठक में पांच अहम प्रस्तावों पर मुहर लग गई। इनमें सरकार ने सबसे बड़ा फैसला कोरोना वायरस को लेकर लिया है। कोरोना वायरस से पीड़ितों के लिए योगी सरकार ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि सरकार अब कोरोना से पीड़ितों का इलाज मुफ्त कराएगी। इसके अलावा कैबिनेट में सरकारी कर्मचारियों के लिए घर से काम करने का प्रस्ताव भी पास कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश में सभी तरह के धरना-प्रदर्शनों पर रोक लगा दी गई है। 31 मार्च तक यूपी के सभी पर्यटक स्थल बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में सभी स्कूल-कॉलेज दो अप्रैल तक बंद रखने के निर्देश दिये गये हैं। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़कर 15 हो गई है। सरकार कोरोना से निपटने के लिए हर संभव कदम उठा रही है।

स्कूल-कॉलेज दो अप्रैल तक बंद
भी स्कूल- कॉलेज 2 अप्रैल तक बंद। यूपी बोर्ड व राज्य की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं को स्थगित किया गया। मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघर भी 2 अप्रैल तक बन्द रहेंगे। वहीं, पर्यटन स्थलों 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है यह सिर्फ साफ सफाई के लिए ही खुलेंगे।

अन्य प्रस्ताव
– तानाजी को एसजीएसटी से से मुक्त करने का प्रस्ताव हुआ पास
– खनिज नियमावली 2020 में संशोधन का प्रस्ताव हुआ पास
– उत्तर प्रदेश में किसी भी तरह के धरना-प्रदर्शनों पर रोक लगा दी गई है
– सरकारी कर्मचारियों के लिए बनाई गई नई कमेटी। घर से काम करने का प्रस्ताव पास

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट बैठक में कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए कई निर्णय लिए गए हैं। सरकारी कार्यालयों में भीड़ खत्म करने के लिए कर्मचारियों को घर से काम करने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।

इसके लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया है। इसके अलावा यूपी में सभी परीक्षाएं, प्रतियोगी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। साथ ही स्कूल-कॉलेज और सिनेमा घरों के बंद रहने की तारीख को और आगे बढ़ा दिया है।

यानि अब यूपी में दो अप्रैल तक स्कूल-कॉलेज और सिनेमा घर सब बंद रहेंगे। सभी धरना प्रदर्शनों पर सरकार ने रोक भी लगा दी है।

बैठक में मुख्यमंत्री ने कोरोना पर केंद्र सरकार की एडवायजरी का 100 फीसदी पालन करने को कहा है साथ ही प्रदेशवासियों से भीड़भाड़ में जाने से बचने की अपील की है। प्रदेश के सभी पर्यटक स्थल 31 मार्च तक बंद रहेंगे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि बंदी के चलते रोजमर्रा का काम करने वाले लोगों का भरण पोषण हो सके इसके लिए वित्तमंत्री की कमेटी तीन दिन में रिपोर्ट देगी।
इसमें कृषि मंत्री और श्रम मंत्री शामिल हैं।

सरकार द्वारा मजदूरी करने वालों को कुछ धनराशि अकाउंट में दी जाएगी। प्रदेश में तहसील दिवस और जनता दर्शन दो अप्रैल तक बंद कर दिया गया है।सरकार ने प्रदेश में कोरोना का मुफ्त इलाज किए जाने की घोषणा की है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *